जेडीयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने एनडीए में सीट शेयरिंग को लेकर एक बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में जेडीयू बीजेपी के बीच सीटों का बंटवारा उसी अनुपात में होगा जैसे 2010 में हुआ था। जेडीयू बड़ी पार्टी है इसलिए उसकी भागीदारी भी बड़ी होनी चाहिए। पीके के इस बयान के बाद अब बीजेपी ने सीएम नीतीश कुमार से सफाई मांगी है। बीजेपी के के राज्यसभा सांसद गोपाल नारायण सिंह ने कहा है कि सीट शेयरिंग के मामले में प्रशांत किशोर के बयान का जवाब नीतीश कुमारको देना चाहिए.

गोपाल नारायण सिंह ने कहा कि प्रशांत किशोर सही बोल रहे हैं या गलत इसे नीतीश कुमार को स्पष्ट करना चाहिए. उन्होंने कहा कि वो प्रशांत किशोर को पॉलिटिकल नहीं मानते.राज्यसभा सांसद ने कहा कि प्रशांत किशोर के सीट शेयरिंग को लेकर दिए गए बयान पर अब JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष को खुलकर बोलना चाहिए क्योंकि उनका गठबंधन प्रशांत किशोर से नहीं नीतीश कुमार और JDU के साथ है.गोपाल नारायण सिंह ने कहा कि प्रशांत किशोर पिछले चुनाव का परिणाम के आधार पर सीट शेयरिंग आत तो कर रहे हैं लेकिन वो इस बात को कैसे भूल गए कि BJP के 22 सांसद थे और JDU के 2 फिर भी BJP ने JDU को लोक सभा की बराबर सीटें दीं. गोपाल नारायण सिंह ने कहा कि BJP को नरेन्द्र मोदी को PM बनाना था तो उसने समझौता किया उसी तरह से JDU को नीतीश कुमार को CM बनाने के लिए BJP के अनुसार समझौता करना पड़ेगा.