बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश की राह मुश्किल करने वाली लोक जनशक्ति पार्टी के तेवर अब जेडीयू और नीतीश कुमार को लेकर नरम पड़ते दिख रहे हैं। चुनाव में जेडीयू को 25 से 30 सीटों का नुकसान पहुंचाने वाली लोजपा नेता अब सीएम नीतीश कुमार की तारीफ कर रहे हैं। लोजपा नेता सुरभान सिंह की तरफ से बड़ा बयान सामने आया है। सुरभान सिंह ने तेजस्वी और नीतीश को लेकर बड़ी बात कह दी है। उन्होंने कहा कि तेजस्वी की उम्र अभी सीखने की है और नीतीश का अनुभव ज्ञान का भंडार है।

लोजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सूरजभान सिंह ने कहा कि चुनाव के बाद से चिराग कई बार बिहार आए हैं और उन्होंने चुनाव की समीक्षा की है। हमसे कहां चूक हुई और कहां नहीं, इस पर बैठकों में खूब चर्चा हुई है। हमे चुनाव में निराशाजनक प्रदर्शन जरूर किया है, लेकिन हम हताश नहीं हैं और अभी हम सरकार के काम काज को लेकर पैनी निगाहें बनाए हुए हैं। वहीं उन्होंने बिहार में बढ़ते अपराध को लेकर कहा कि हत्या कहीं भी हो सकती है।

हालाकि हत्या होना दुखद है और सरकार को इस पर नियंत्रण करना चाहिए। सरकार इसमें कमी जरूर ला सकती है जो कि अभी बिहार में इसे करने की जरूरत भी है। उन्होंने कहा कि बिहार में जो 20 साल पहले जो स्थिति थी, वो अब नहीं है। यहां जातिवाद इस कदर हावी है कि अपराध होने का एक कारण बना हुआ है। लोजपा के अकेले चुनाव लड़ने का फायदा सबसे अधिक तेजस्वी यादव को मिला। अगर लोजपा चुनाव अकेले नहीं लड़ती तो उन्हें उतनी सीटे नहीं आती, जितनी की मिली है। लोजपा का अकेले चुनाव लड़ने का सबसे अधिक नुकसान नीतीश कुमार जी को हुआ है।