कभी बिहार के सीएम नीतीश कुमार के रणनीतिक और राजनीतिक सलाहकार रहे प्रशंात किशोर इन दिनों पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के चुनावी रणनीतिकार की भूमिका में हैं। लेकिन प्रशांत किशोर देश के पहले ऐसे मंत्री बनने जा रहे हैं जो एक रूपये की सैलरी पर काम करेंगे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पीके को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपना प्रधान सलाहकार बनाया है लेकिन आप जान लीजिए कि पीके की हैसियत अब एक मंत्री के बराबर होने जा रही है.

भले ही उनकी सैलरी महज एक रूपया है लेकिन बाकी की सुख-सुविधाएं उन्हें मंत्री के दर्जे की दी जा रही हैं. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर के प्रधान सलाहकार बनाये जाने के बाद पंजाब सरकार की ओर से सरकारी आदेश जारी किया गया है. प्रशांत किशोर की नियुक्ति के बारे में मुख्यमंत्री कार्यालय ने विस्तृत जानकारी साक्षा की है. सरकारी आदेश के मुताबिक प्रशांत किशोर को वेतन के रूप में मात्र एक रुपया मिलेगा. लेकिन उनका ओहदा एक कैबिनेट मंत्री के बराबर होगा. क्योंकि पंजाब सरकार की ओर से उन्हें एक निजी सचिव यानि कि प्राइवेट सेक्रेटरी, एक प्राइवेट असिस्टेंट, एक डाटा एंट्री ऑपरेटर, एक क्लर्क और दो चपरासी मिलेंगे.