प्याज की आसमान छूती कीमतों ने एक तरफ जहां जायके के लिए सबसे जरूरी प्याज को आमलोगों की पहुंच से दूर कर दिया है तो दूसरी तरफ इस पर सियासत भी खूब हो रही है। लालू यादव पहले हीं ट्वीट कर अपने अंदाज में निशाना साध चुके हैं औ लिख चुके हैं कि मोदी-नीतीश राज में प्याजवा अनार हो गईल। खबर है कि अब पप्पू यादव लोगों को 35 रूपये किलो प्याज उपलब्ध करवाएंगे। पप्पू यादव की ये घोषणा ऐसे वक्त आई है जब बिस्कोमान ने प्रशासनिक सहयोग नहीं मिलने का हवाला देकर सस्ते दर से प्याज न बेचने का निर्णय लिया है.

मालूम हो कि बिहार में प्याज की कीमत खुदरा बाजार में 80 से 90 रुपए है. प्याज की बढ़ती कीमत के बीच बिस्कोमान ने पटना समेत कई जिलों में लोगों को 35 रुपए प्रति किलो दर से प्याज उपलब्ध कराया था लेकिन इस दौरान उसे कई परेशानियों का सामना करना पड़ा.आरा में प्याज वितरण के दौरान हुई पत्थरबाजी में बिस्कोमान के कुछ कर्मचारियों को चोट लगी थी. बिहार में लोगों को इन दिनों प्याज के कारण खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है और हर कोई सस्ती दर पर प्याज पाना चाह रहा है.