एनडीए के अंदरखाने से जो खबर सामने आ रही है उसके मुताबिक नीतीश कैबिनेट का विस्तार जल्द हो सकता है। एनडीयू सूत्रों की मानें तो 11 से 15 दिसम्बर के बीच नीतीश कैबिनेट का विस्तार हो सकता है। खुद जेडीयू प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने भी ऐसे संकेत दिये हैं हांलाकि तारीखोें को लेकर उन्होेंनेे कुछ नहीं कहा हैं। वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा हैे कि नीतीश कैबिनेट का विस्तार जल्द होना चाहिए। सरकार गठन के साथ पहले चरण में मुख्यमंत्री समेत 15 मंत्रियों ने शपथ ली थी, जिसमें बीजेपी कोटे से सात मंत्री बनें। इस बार मंत्री मंडल के विस्तार में 16 मंत्रियों के चुनाव के बाद नीतीश मंत्रिमंडल में मंत्रियों की संख्या 31 हो जाएगी। निर्धारित मानक के अनुसार अधिकतम 36 मंत्री बनाए जा सकते हैं।

सरकार से जुड़े सूत्रों की माने तो इस बार होने वाले विस्तार में बीजेपी कोटा से 9 या 10 मंत्री बनाए जाने की संभावना है वहीं जेडीयू से लगभग 6 से 7 मंत्रियों के बनाए जाने की बात आ रही है और जिस समीकरण के तहत मंत्री बनाने की तैयारी की जा रही है उसमें जातिगत आधार शामिल है जिनमें ब्राह्मण,भूमिहार,राजपूत,कुर्मी,यादव समाज से आने वाले एक-एक विधायक को मंत्री बनाया जा सकता है।