हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (से०) के प्रदेश अध्यक्ष बैश्यन्त्री ने कहा कि कोरोना का अब तृतीय चरण बहुत जल्द प्रारंभ होने वाला है । इस स्थिति में ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। मैं खुद अपनी पार्टी की ओर से सभी से अपील करता हूं की वह लॉक डाउन के अंतर्गत अपने अपने घरों के अंदर रहे और लॉक डाउन का निर्देशों का पालन दृढ़ता पूर्वक करें। बैश्यन्त्री ने कहा कि खासकर देहाती क्षेत्रों में प्रत्येक पंचायत में मुखिया के द्वारा सैनिटाइजेशन का कार्य युद्ध स्तर पर प्रारंभ कराया जाए। सरकार इसके लिए मुखिया को पर्याप्त फंड मुहैया कराएं। भारत ने अभी हाडस्कीकोलोरीक्वीन् पूरे विश्व में उपलब्ध कराया है । यह दवाई कोरोना के इलाज के लिए कारगर साबित हो सकता है। भारत के इस पहल को विश्व के देशों ने सराहा है और धन्यवाद भी दिया है , अब लगता है कि भारत के पहल पर विश्व से कोरोना को खत्म किया जा सकता है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के इस पहल को हम सभी ने पसंद कियाहै। भविष्य में जब कभी भारत पर कोई विपत्ति आवे तो उसे विश्व समुदाय को भी आगे बढ़कर सहयोग प्रदान करने की जरूरत है।

बैश्यन्त्री ने कहा कि भारत में अभी पुनःलॉकडाउन लागू किया गया तो हम सरकार से अनुरोध करते हैं कि इस अवधि में सभी जरूरतमंद लोगों तक अनाज, अन्य खाद्य सामग्री एवं दवाइयां आपूर्ति कराने की चुस्त-दुरुस्त व्यवस्था के साथ अस्पतालों की स्थिति सुदृढ़ की जाए और डॉक्टरों नर्सों के उपयोग मेे आने वाला गाउन एवं आवश्यक सामग्रियों पर ध्यान दिया जाए। उनके लिये जो आवश्य हो उसे मुहैया कराया जाए।बैश्यन्त्री ने कहा कि डॉक्टर के सुरक्षा पर ही हमारी सुरक्षा निर्भर करती है । इसलिए सरकार उसके सुरक्षा में किसी प्रकार की कमी नहीं आने दे।

अस्पतालों में खासकर जो बड़े हस्पताल हैं जैसे ऐम्स इत्यादि इन जगहों पर मुफ्त में इलाज कराने की व्यवस्था किया जाए । ग्रामीण क्षेत्रों के हॉस्पिटल हैं वहां भी साधन मुहैया कराया जाए। साफ सफाई पर भी सामूहिक रूप से प्रयास करने की आवश्यकता है। मैं प्रत्येक बिहार वासियों से अनुरोध करता हूं कि अपने आस पड़ोस और सड़कों को साफ सुथरा रखें यदि आवश्यक हो तो ग्रामीण क्षेत्र में मुखिया का सहयोग प्राप्त करें एवं शहरी क्षेत्र में नगर पालिका अथवा नगर निगम की सहायता ली जाए।