बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने अपना किशनगंज का कार्यक्रम रद्द कर दिया है। कल हीं उन्हें किशनगंज में एनआरसी और सीएए को लेकर एक कार्यक्रम में जाना था। इसमें एआईएमआईएम चीफ असददुदीन ओवैसी के साथ पूर्व सीएम मांझी मंच साझा करने वाले थे इसको लेकर बिहार के राजनीतिक गलियारों में खूब चर्चा थी लेकिन अब यह कार्यक्रम टल गया है। मांझी अब किशनगंज की जगह रांची जांएगे और हेमंत सोरेन के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे। .

कल तक मांझी मांझी यह कह रहे थे कि वे सीएए और एनआरसी को लेकर किशनगंज में ओवैसी के साथ सभा करेंगे और जो भी दल सीएए और एनआरसी का विरोध करेगा वे उसका साथ देंगे, लेकिन 24 घंटे में ही मांझी ने यू-टर्न ले लिया है.मांझी ने कहा है अब वो 29 दिसंबर को हेमंत सोरेन के शपथ ग्रहण शामिल होंगे, इसलिए वो ओवैसी के साथ मंच साझा नहीं करेंगे.नकार बताते हैं कि जीतन राम मांझी ने यू हीं अपने फैसले से नहीं पलटे हैं ब,ल्कि इसके पीछे लालू प्रसाद और तेजस्वी यादव का दबाव काम किया है.