Spot TV: झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि अगर शिबू सोरेन चाहते तो झारखंड 1993 में ही बन जाता. रघुवर दास दुमका में आयोजित एक चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे. रघुवर दास ने कहा कि झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन चाहते तो 1993 में ही जब नरसिम्हा राव की सरकार थी, तब अलग झारखंड का निर्माण करा लेते, पर उन्होंने इसलिए ऐसा नहीं किया.

दो करोड़ रुपये में झारखंड की अस्मिता को बेचने का काम किया. उस वक्त उन्होंने अलग राज्य बनवाया होता, तो इतने लंबे समय तक अलग राज्य के संघर्ष के नाम पर उनकी दुकानदारी नहीं चलती.

गुरुजी अपनी मतपेटी भरते रहे और गरीबों को भगवान के भरोसे रखने का हमेशा काम किया. मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरुजी ने संघर्ष किया, लेकिन यहां की जनता ने जरूरत से ज्यादा उन्हें सम्मान दिया. उन्होंने कहा कि जिन कांग्रेसियों के कार्यकाल में 2जी, कॉमनवेल्थ जैसे कई घोटाले हुए.