Spot Tv: 1977 से लगातार हाजीपुर से चुनाव लड़ रहे लोजपा सुप्रीमो राम विलास पासवान इस बार हाजीपुर से चुनाव नहीं लड़ रहे हैं। चार दशक में यह पहला मौका है जब रामविलास पासवान यहां से चुनाव नहीं लड़ रहे हैं अगर अपवाद छोड़ दें तो वे यहां से लगातार चुनाव जीतते रहे हैं और जीत का जो अंतर रहा है वो एक रिकार्ड है। लेकिन इस बार उनके भाई और लोजपा प्रदेश अध्यक्ष पशुपति कुमार पारस हाजीपुर से चुनाव लड़ रहे है।

पारस 15 अप्रैल को इस सीट के लिए नामांकन दाखिल करेंगे। पशुपति कुमार पारस ने इसको लेकर शुक्रवार को हाजीपुर में एनडीए कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की. इसमें उन्होंने कहा कि मेरे बड़े भाई रामविलास पासवान ने 1977 से हाजीपुर का प्रतिनिधित्व किया है और कई काम किये हैं. उन्होंने कहा कि देश में मजबूत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पुनः सरकार बने. कार्यकर्ता बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में हो रहे विकास कार्यों को हाजीपुर लोकसभा क्षेत्र में जनदृजन तक पहुंचाने का काम करें.