गुजरात की सियासत में हलचल अचानक तेज हो गयी है और अटकलों का बाजार गर्म हो गया है। इस गर्माहट की वजह है सीएम विजय रूपाणी से कांग्रेस विधायकों की मुलाकात। कयास लग रहे हैं कि क्या कांग्रेस के जिन तीन विधायकों ने सीएम रूपाणी से मुलाकात की है वे बीजेपी में शामिल होने जा रहे हैं। कांग्रेस विधायक किरीट पटेल, ललित वसोया और ललित कागथारा ने बुधवार दोपहर गांधी नगर में राज्य सचिवालय में मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री से मुलाकात की। जब उनसे भाजपा नेताओं से अचानक हुई इस मुलाकात के बारे में पूछा गया तो पाटन विधानसभा सीट से विधायक किरीट पटेल ने कहा कि उनमें से कोई भी भाजपा में शामिल नहीं होने जा रहा।

पटेल ने पत्रकारों से कहा, हम कुछ मांगे लेकर पहले उपमुख्यममंत्री और फिर मुख्यमंत्री से मिलने गए थे। उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल से मुलाकात के दौरान मैंने पाटन के धारपुर अस्पताल में बिस्तरों की संख्या बढ़ाने का अनुरोध किया ताकि उत्तरी गुजरात के और अधिक कोरोना वायरस रोगियों का वहां इलाज हो सके। कागथारा और वसोया ने कहा कि उन्होंने लॉकडाउन के दौरान लोगों, विशेषकर किसानों के खिलाफ दर्ज मामलों को वापस लेने की मांग की।