राजस्थान में सियासी भूचाल आया हुआ है। कोरोना संकट के बीच यहां की सियासी गहमागहमी अचानक बढ़ गयी है। दरअसल राजस्थान के कांग्रेसी विधायक दो खेमों में बंट गये हैं, सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच खींचतान बढ़ गया है। सीएम अशोक गहलोत ने खुद अपनी कुर्सी पर खतरा बताया है। मुख्यमंत्री गहलोत ने भाजपा पर आरोप लगाया है कि मध्यप्रदेश में विधायकों की खरीद-फरोख्त करने के बाद उसकी गाड़ी अब राजस्थान पहुंच चुकी है।

सीएम ने कहा कि भाजपा यहां सरकार गिराने के लिए कांग्रेस विधायकों को प्रलोभन दे रही है। इन सब घटनाओं से राजस्थान में सियासी हलचल बहुत तेज हो गई है।  दरअसल, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और युवा उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच खींचतान की खबरें सामने आ रही हैं।  पायलट दिल्ली पहुंच चुके हैं और पार्टी के 24 विधायक हरियाणा के होटल में रुके हुए हैं। वहीं, खबरें सामने आ रही हैं कि विधायकों के फोन बंद आ रहे हैं और उन्होंने कथित तौर पर पार्टी के नेतृत्व से संपर्क तोड़ लिया है।