लखनऊ, बुशरा असलम। प्रदेश की तानाशाह योगी सरकार के इशारे पर आज कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा किये जा रहे 30 प्रदर्शनकारियों को पुलिस द्वारा जेल भेजे जाने की घटना की प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू ने कड़ी निन्दा करते हुए कहा है कि योगी सरकार का यह कदम पूरी तरह अलोकतांत्रिक एवं तानाशाहीपूर्ण रवैये को दर्शाता है। उन्होने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि योगी सरकार पूरी तरह तानाशाही पर उतर आयी है। कांग्रेस कार्यकर्ता डरने वाले नहीं हैं। महिलाओं, युवाओं, बेरोजगारों, किसानों के मुद्दों पर कांग्रेस पार्टी आवाज उठाती रही है और उठाती रही है। उन्होने कहा कि कांग्रेस पार्टी जनहित के मुद्दों को लेकर सड़क से लेकर सदन तक संघर्ष करेगी।

प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष ने योगी सरकार पर आरोप लगाया कि वह सम्पूर्ण विपक्ष की आवाज को पुलिस की लाठी और गोली के दम पर दबाना चाहती है। पूरे प्रदेश में अराजकता है। अपराधी आज बेलगाम हो गये हैं। महिलाओं की सुरक्षा ताक पर है। मुख्यमंत्री महिला सुरक्षा के नाम करोड़ों का विज्ञापन खर्च कर मिशन शक्ति की शुरूआत की है किन्तु प्रदेश में महिलाओं पर होने वाले अपराधों में बाढ़ आयी हुई है। प्रदेश सरकार के मंत्री और मुखिया पीड़िता के बजाए आरोपियों के पक्ष में खडे हैं और बयानबाजी कर रहे हैं जिससे रेप के आरोपियों के हौसले बुलन्द हैं। किसान क्रय केन्द्रों पर व्यापक भ्रष्टाचार व्याप्त है। मंहगाई से आम जनता त्रस्त है और योगी सरकार सिर्फ बयानबाजी तक सीमित रह गई है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने आज अलोकतांत्रिक तरीके से गिरफ्तार किये गये 25 कांग्रेसजनों को तत्काल रिहा करने की मांग की है।
उल्लेखनीय है कि कंाग्रेस पार्टी द्वारा बिजली के बढ़े दाम, बेतहाशा बढ़ती मंहगाई, महिलाओं की असुरक्षा, धान खरीद में व्याप्त भ्रष्टाचार आदि मुद्दों को लेकर आज राजधानी के

परिवर्तन चैक से विधानसभा घेराव के लिए जा रहे लखनऊ महानगर कांग्रेस के अध्यक्ष श्री मुकेश सिंह चैहान, जिलाध्यक्ष श्री वेद प्रकाश त्रिपाठी, प्रदेश कांग्रेस के पिछड़ा वर्ग विभाग के चेयरमैन श्री मनोज यादव, एनएसयूआई के अध्यक्ष श्री अनस रहमान, सूचना का अधिकार विभाग के चेयरमैन श्री पुष्पेन्द्र श्रीवास्तव, श्री प्रदीप कनौजिया, श्री नरेन्द्र गौतम, श्री विनोद यादव, श्री इस्लाम अली, श्री विकास सक्सेना, श्री अयूब सिद्दीकी, श्री शाहिद अली, श्री संजय श्रीवास्तव, श्री रामपाल यादव, श्री ज्ञान प्रकाश राय, नदीम अहमद, श्री प्रवीण सेंगर, परवीन खान, शमीम कुरैशी, मसूद अहमद, संदीप पाल, मुर्शरफ इमाम सहित 25 कांग्रेसजनों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। इसके अलावा महिला कांग्रेस की अध्यक्ष श्रीमती ममता चैधरी एवं श्रीमती प्रतिभा अटल पाल, श्रीमती सुशीला शर्मा, उरूसा राणा, श्रीमती माया चैबे, श्रीमती विभा त्रिपाठी, श्रीमती लता दुबे, शबनम आदिल, किरन भंडारी आदि महिला कांग्रेस की नेताओं को हिरासत में लेकर देर सायं रिहा कर दिया गया।