प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) 13 दिसंबर को श्रीकाशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण करेंगे. इस ऐतिहासिक पल पर वाराणसी (Varanasi) में 11 राज्यों के मुख्यमंत्री भी आ रहे है. वाराणसी में प्रधानमंत्री के साथ गुड गवर्नेंस पर चर्चा होगी.

सभी मुख्यमंत्री इस कार्यक्रम के बाद बस से अयोध्या जाएंगे और वहां रामलला के दर्शन करेंगे, यह पहला अवसर होगा जब कई राज्यों के मुख्यमंत्री एक साथ काशी में जुटेंगे.13 दिसंबर को काशी विश्वनाथ धाम को भक्तों को समर्पित करने के बाद प्रधानमंत्री 14 दिसंबर को सभी मुख्यमंत्रियों के साथ सम्मेलन करेंगे प्रधानमंत्री इस सम्मेलन में मुख्यमंत्रियों को गुड गवर्नेंस का मंत्र देंगे.

सभी मुख्यमंत्री 15 दिसंबर को शिव की नगरी काशी से राम की नगरी अयोध्या भी जाएंगे. BJP शासित 11 राज्यों के मुखिया अपनी पत्नियों के साथ रामलला  के दरबार में हाजिरी लगाएंगे और पीएम के ‘वोकल फॉर लोकल’ आवाहन के तहत अयोध्या के स्थानीय बाजार में खरीदारी भी करेंगे.

दरअसल काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर लगभग बनकर तैयार है. यह प्रधानमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट है, जिसकी शुरुआत उन्होंने मार्च 2019 में की थी. इसके करीब पौने तीन साल बाद अब प्रधानमंत्री मोदी 13 दिसंबर को काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का लोकार्पण करने वाले हैं. कॉरिडोर लोकार्पण का कार्यक्रम बहुत ही भव्य होने वाला है. इसके तहत एक महीने तक काशी में सांस्कृतिक कार्यक्रम चलेंगे. हाल ही में मुख्यमंत्री योगी ने कहा था कि श्री काशी विश्वनाथ कॉरिडोर लोकार्पण के दौरान पूरे एक माह तक काशी में सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे.