रालोसपा अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने बिहार में एक बड़े घोटाले का दावा किया है। आज पटना में पार्टी कार्यालय में आयोजित प्रेस काॅन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि बिहार में स्मार्ट फोन घोटाला हुआ है। कुशवाहा ने आरोप लगाया है कि नीतीश सरकार के कार्यकाल में समाज कल्याण विभाग के अंदर मोबाइल फोन घोटाला हुआ है। रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने आज प्रेस वार्ता करके आरोप लगाया है कि समाज कल्याण विभाग ने अक्टूबर 2018 में जिस स्मार्टफोन की खरीद की उसका भुगतान वास्तविक कीमत से ज्यादा किया गया।

कुशवाहा ने आरोप लगाया है कि जिस स्मार्टफोन के लिए 9153 रूपये के दर से भुगतान किया गया उसकी कीमत बाजार में उस वक्त 7000 रुपये से कम थी।कुशवाहा ने कहा है कि समाज कल्याण विभाग में वर्ष 2018 में 33914 स्मार्टफोन खरीदे जिसके लिए 31 करोड़ से ज्यादा की राशि खर्च की गई। विभाग ने जिस स्मार्टफोन की खरीद कि वह उस वक्त अपने फीचर्स के कारण आउटडेटेड हो चुका था। बावजूद इसके ज्यादा कीमतों पर उस स्मार्टफोन की खरीद क्यों की गई? यह किसी घोटाले की तरफ इशारा करता है।