बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने ट्वीटर पर लिखा है कि जिन नेताओं को तेजस्वी के नेतृत्व से परेशानी हो रही हो वो पार्टी छोड़ दें। लोकसभा चुनाव में महागठबंधन को बिहार में मिली करारी हार के बाद राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के भीतर उठ रहे विरोध के सुर एवं लालू प्रसाद यादव की गैरमौजूदगी में तेजस्वी यादव के नेतृत्व क्षमता पर दबे जबान से उठाये जा रहे सवालों के बीच तेजप्रताप यादव ने बड़ा बयान दिया है. अपने अर्जुन का समर्थन करते हुए तेजप्रताप यादव ने ट्वीट किया है और विरोधियों पर निशाना साधते हुए उन्होंने लिखा है, जिसको तेजस्वी के नेतृत्व पे कोई शक है वो राजद पार्टी छोर दे

.इससे पहले लोकसभा चुनाव का परिणाम को लेकर पटना के 10 सर्कुलर रोड पर स्थित पूर्व सीएम राबड़ी देवी के आवास पर राजद की समीक्षा बैठक में पार्टी के प्रमुख लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव खुद तो मौजूद नहीं रहे. लेकिन, उन्होंने अपनी उपस्थिति जरूर दर्ज करवाते हुए बैठक में पार्टी के तमाम वरिष्ठ नेताओं और राजद के हारे हुए सभी प्रत्याशियों की मौजूदगी में तेजस्वी यादव के नाम उन्होंने एक मैसेंजर के साथ खत भेजा.