राज्य में हो रहे उपचुनाओं को लेकर हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (से०) के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ दानिश रिजवान ने राजद पर हमला बोला है। दानिश ने कहा कि बिहार में होने वाले उप चुनाव में हमारी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी महागठबंधन की बड़ी ताकत है ।

जिसका एहसास सूबे की जनता को है। यही कारण था कि पिछले उपचुनावों में राजद की बडी जीत हुई थी । परंतु इस बार सीट शेयरिंग को लेकर राजद का जो रवैया है वह दुर्भाग्यपूर्ण है। दानिश ने राजद नेताओं पर पलटवार करते हुए कहा कि अपने बड़बोले नेताओं और प्रवक्ताओं पर लगाम लगाए नहीं तो इसका खामियाजा भुगतना पडेगा, हमारी जुबान खोली तो गठबंधन में प्रलय आ जाएगा।

डॉ दानिश ने कहा आरजेडी में शामिल कुछ भाजपा एजेंटों के कारण महागठबंधन को उपचुनाव में नुकसान हो सकता है । हमारी पार्टी हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा को उपचुनाव में बराबर सम्मान नहीं दिया गया तो उसका बहुत बड़ा नुकसान महागठबंधन को उठाना पड़ सकता है । राजद के द्वारा जिस तरह से स्वार्थ की राजनीति कर महागठबंधन के घटक दलों का कोई ख्याल नहीं रखा जा रहा है । इस कारण बड़ी संकट उत्पन्न हो सकती है।

दानिश ने कहा कि महागठबंधन के अपने सहयोगी दल को उप चुनाव में टिकट देना होगा, यदि ख्याल नहीं रखा गया तो महागठबंधन तोड़ने वालों को बिहार की जनता सबक सिखाएगी। दानिश ने कहा कि हमें विधान पार्षद की सीट किसी के रहमोकरम पर नहीं मिली । जीतन राम माँझी के कारण ही अररिया और जहानाबाद उप चुनाव में महागठबंधन को जीत मिली थी । यह किसी से छिपा हुआ नहीं है । उसके बाद भी अगर हमारी पार्टी को नजर अंदाज किया जाएगा, तो उस स्थिति में हमारी पार्टी के लिए सारे विकल्प खुले हैं।