Spot TV: पूर्व सांसद व बाहुबली नेता अतीक अहमद वाराणसी से चुनाव लड़ने की तैयारी में है. पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ अतीक अपने वकील और प्रस्‍तावकों के जरिए सोमवार को नामांकन दाखिल करेगा. अतीक अहमद इस समय बरेली जेल में सजा काट रहा है. शनिवार को परोल के लिए याचिका लगा दी गई है, जिसपर सोमवार को सुनवाई होगी.कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि अतीक अहमद को शिवपाल यादव की पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी से टिकट मिला है. हालांकि पार्टी की मीडिया इकाई ने इस बात का खंडन किया है.इसी साल जनवरी में सोशल मीडिया पर बहुजन समाज पार्टी की एक फर्जी सूची वायरल हुई थी. उसमें अतीक अहमद को मुरादाबाद से प्रत्‍याशी बनाने की बात कही गई थी. हालांकि पार्टी ने उसका खंडन किया था.जेल के अंदर से रंगदारी वसूलने के मामले में माफिया अतीक अहमद को देवरिया जेल से बरेली जेल भेजा गया था.

26 दिसंबर 2018 को लखनऊ के रियल एस्टेट कारोबारी मोहित जायसवाल को अतीक अहमद के गुंडों ने उसकी फार्चुनर गाड़ी समेत अगवा कर लिया था. आरोप है कि अतीक अहमद ने जेल के बैरक में ही इस कारोबारी को 20-25 लोगों से बेरहमी से पिटवाया.इसके बाद देवरिया जेल में माफिया अतीक अहमद की बैरक की तलाशी के बाद प्रशासन ने कड़ा कदम उठाते हुए देवरिया के डिप्टी जेलर देवकांत यादव समेत हेड वार्डन मुन्ना पांडेय, वार्डन राजेश कुमार शर्मा और राम आसरे को दोषी मानते हुए निलंबित कर दिया था.