कानपुर मुठभेड़ मामले से जुड़ी हुई आज की सबसे बड़ी खबर यही है कि सुबह-सुबह गैंगस्टर विकास दूबे को मार गिराया गया है जिसने अपने साथियों के साथ मिलकर आठ पुलिस वालों की हत्या की। एनकाउंटर के बाद बयान भी लगातार सामने आ रहे हैं। मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने विकास दूबे को राक्षस बताया है।उमा भारती ने कहा है कि राक्षस विकास दुबे मारा गया। उसने देवेंद्र मिश्रा जैसे ईमानदार डीएसपी समेत 8 पुलिसकर्मियों की नृशंस हत्या की थी।

इससे पहले उमा भारती ने विकास दुबे की गिरफ्तारी को लेकर लिखा था कि अब तीन बातें रहस्य की परत में हैं। इन सवालों को लेकर उन्होंने पुलिस कार्रवाई पर सवाल खड़े कर दिए थे। इधर, अब तक इस मामले में मध्यप्रदेश में भाजपा पार्टी और उसके नेता चुप्पी साधे हुए हैं। इस मामले में सिर्फ गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ही जबाव दिया है। उन्होंने दिग्विजय के ट्वीट पर कहा वह खाली बैठे हैं। ऐसे में उनके पास ट्वीट करने के अलावा काम क्या है। मध्य प्रदेश पुलिस ने कानून के दायरे में रहकर काम करते हुए आरोपी को यूपी पुलिस को सौंपा था। उसके बाद की जिम्मेदारी उनकी थी।