देश में कोरोना संकट भीषण दौर में है। संकट लगातार गहरा होता जा रहा है। संकट ने सियासी गतिविधियों पर भी ब्रेक लगाया है। कोरोना संकट के बीच संसद के मानसून सत्र को लेकर एक अहम खबर सामने आ रही है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक संसद के मानसून सत्र के सितंबर के दूसरे हफ्ते से शुरू होने की आशंका है। लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही वैकल्पिक दिनों के आधार पर होगी यानी एक दिन लोकसभा और एक दिन राज्यसभा।

यह कदम सामाजिक दूरी और कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के मद्देनजर उठाया जा रहा है।सूत्रों ने बताया कि दोनों सदन वर्चुअली नहीं बल्कि फिजिकली मिलेंगे। लोकसभा की कार्यवाही लोकसभा हॉल, राज्यसभा हॉल और सेंट्रल हॉल से चलने की संभावना है। वहीं राज्यसभा की कार्यवाही राज्यसभा और लोकसभा हॉल और लॉबी में आयोजित की जाएगी। हालांकि अभी तक बैठने की व्यवस्था के बारे में अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है।