पटना/मुजफ्फरपुर: आर.कुमार/मनोज कुमार

 आजकल राजद नेता तेजस्वी यादव यात्रा पर हैं । और हर दिन कोई ना कोई खुलासा कर रहे हैं । अब विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर गंभीर आरोप लगाये हैं। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा कि फोन टैपिंग के बाद अब सर्किट हाउस तक मेें उनपर नजर रखी जा रही है। उनके खाने-पीने की चीजों में नशीले और विषैले पदार्थ (जहर) मिलाने की कोशिश की जा रही है। साथ-साथ सभा स्थल तक जासूसी करवाई जा रही है। छवि बिगाड़ने और जानमाल का नुकसान पहुंचाने के कुचक्र रचे जा रहे हैं।फ़ोन टैपिंग के बाद अब सर्किट हाउस में मेरे ठहरने से लेकर, खाने-पीने की चीज़ों में नशीले और विषैले पदार्थ मिलाने की कोशिश के साथ-साथ सभास्थल तक पीछा कर जासूसी करवाई जा रही है। छवि बिगाड़ने और जानमाल का नुक़सान पहुँचाने का कुचक्र रचा जा रहा है।

पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की ‘संविधान बचाओ न्याय यात्रा’ के दौरान गुरुवार को मुजफ्फरपुर पहुंचे थे । तेजस्वी यादव ने कहा गरीबों और किसानों को दस हजार के कर्ज में घर कुर्क कर लिया जाता है और अमीरों का विदेश भगा दिया जाता है। लागत मूल्य तक नहीं मिलने के कारण किसान आत्महत्या कर रहे हैं। सरकार उनकी फसल की दोगुनी कीमत दिलाने का सपना दिखा रही है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए पूर्व उप मुख्यमंत्री ने कहा कि वे जापान में बैठकर राजद की न्याय यात्रा पर नजर रख रहे हैं। मुख्यमंत्री इस यात्रा में उमड़ रहे जनसैलाब से घबराये हुए हैं। तेजस्वी यादव ने आशंका जताई कि यात्रा के दौरान मुझे राज्य सरकार फंसा सकती है। सर्किट हाउस में मेरे साथ साजिश के तहत कुछ भी किया जा सकता है।

उन्होंने जनता से आशीर्वाद मांगते हुए कहा कि मौजूदा मुख्यमंत्री की राजनीति में अंतिम पारी खेल रहे हैं। इसलिए वे आपके साथ वादाखिलाफी कर सकते हैं। मुझे अभी अगले पचास साल तक राजनीति करनी है। आप मुझपर भरोसा कीजिए और मेरा साथ दीजिए। तेजस्‍वी ने कहा कि उनके भाई, मां, बहनों, जीजा व पिता के समधियों को भी नहीं छोड़ा जा रहा। सीबीआइ, ईडी व आइबी, सभी उनके परिवार के खिलाफ जांच कर रहे हैं, जबकि सृजन घोटाला, शौचालय घोटाला व अन्य की जांच नहीं हो रही है। तेजस्‍वी ने कहा कि देश जानता है नीतीश कुमार अलोकतांत्रिक प्रवृति के नकारात्मक एवं अवसरवादी व्यक्ति है जो विरोधियो को निपटाने के लिए किसी भी स्तर तक जा सकते है। यह समझ मे नही आ रहा है एक 28 वर्ष के नौजवान ने उनका क्या बिगाड़ा है? उल्टा उन्होंने हमारे सहयोग से बहुमत प्राप्तकर जनादेश की डकैती की है।