देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्ट ने आज अयोध्या मामले पर अपना फैसला सुना दिया है। कोर्ट ने विवादित जमीन पर मंदिर बनाने का आदेश सरकार को दिया है इसके साथ हीं मुस्लिम पक्ष को 5 एकड़ वैकल्पिक जमीन दिये जाने का फैसला सुनाया है। जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सांसद पप्पू यादव ने इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। पप्‍पू यादव ने कहा कि उच्चतम न्यायालय का निर्णय काबिलेतारीफ है. न्‍यायालय द्वारा वैज्ञानिक मूल्यों, तथ्यों पर आधारित संविधान सम्मत इस फैसले की सभी पक्ष को मुक्तकंठ सराहना करनी चाहिए.

यह भारतीय न्याय व्यवस्था की जीत है.उन्‍होंने कहा कि 133 करोड़ भारतीयों को इस फैसले का इंतजार था. हम एक हैं और एक ही परम सत्ता के परिवार हैं. ईश्‍वर, भगवान, अल्‍लाह, वाहे गुरू हमारे भीतर शाश्‍वत है. हमें इसे कहीं खोजने की जरूरत नहीं है. विश्‍व को हम हमेशा वसुधैव कुटुम्बकम, सर्वधर्म समभाव और सार्वभौमिकता का दर्शन मानव कल्‍याण और विश्‍व कल्‍याण के लिए देते रहे हैं. हमारी संस्‍कृति और विचारधारा मूल्‍यों और आदर्श पर आधारित है. सर्वोच्‍च न्‍यायालय का फैसला भावनाओं के अनुकूल है.