समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बजट 2020 को निराशाजनक बताया है। उन्होंने कहा कि इसमें नई पीढ़ी के लिए कुछ भी नहीं है, ये इस दशक का सबसे दिवालिया बजट है। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के बजट पेश करने के बाद इस पर प्रतिक्रिया देते हुए उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम और आजमगढ़ के सांसद अखिलेश यादव ने कहा, बजट ने देश के किसानों और नौजवानों को निराश किया है। सरकार खुद मानती है कि यहां नई पीढ़ी सबसे ज्यादा है।

बजट में नई पीढ़ी के सपनों को पूरा करने के लिए क्या है सरकार के पास। आखिर कहां है नौकरी, रोजगार और इन्वेस्टमेंट।अखिलेश यादव के अलावा कांग्रेस नेताओं ने भी बजट को निराश करने वाला बताया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने ने बजट भाषण पर कहा, मुझे खुशी है वित्तमंत्री ने ये स्वीकार किया कि राजकोषीय घाटा 3.8 प्रतिशत है। उनको देश को यह भी बताना चाहिए था कि अगर आप यूनियन और स्टेट का घाटा जोड़े तो यह 8 प्रतिशत से ज्यादा है जो देश के लिए चिंता की स्थिति है।