सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण की मुश्किलें बढ़ गयी हैं। वे कोर्ट की अवमानना के दोषी करार दिये गये हैं। प्रशांत भूषण अन्ना आंदोलन से जुड़े रहे हैं और बाद में आम आदमी पार्टी के संस्थापक सदस्यों में से एक रहे हैं। अरविंद केजरीवाल से मतभेद के कारण उन्होंने आम आदमी पार्टी छोड़ी थी।

सुप्रीम कोर्ट ने वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण को कोर्ट की अवमानना वाले मामले में दोषी करार दिया है। न्यायमूर्ति अरूण मिश्रा, न्यायमूर्ति बी आर गवई और न्यायमूर्ति कृष्ण मुरारी की पीठ ने  भूषण को अवमानना का दोषी ठहराते हुए कहा कि इसकी सजा की मात्रा के मुद्दे पर 20 अगस्त को बहस सुनी जाएगी। शीर्ष अदालत ने पांच अगस्त को इस मामले में सुनवाई पूरी करते हुए कहा था कि इस पर फैसला बाद में सुनाया जाएगा।