सीतामढ़ी: बिहार में आजकल पैक्स चुनाव का दौर चल रहा है। इस कड़ी में सीतामढ़ी जिले के रुन्नीसैदपुर प्रखंड अंतर्गत टिकौली पैक्स के अध्यक्ष पद का भी चुनाव हुआ। इस चुनाव में भी एक बार पर वहां की जनता ने सतीश कुमार शाही उर्फ छोटन शाही पर भरोसा जताया है।

लगातार तीसरी बार विजयी हुए सतीश कुमार शाही उर्फ छोटन शाही को सियासत विरासत में मिली है। इनके पिता नवल किशोर शाही बिहार के पूर्व शिक्षा मंत्री और वर्तमान में एनसीपी के प्रदेश अध्यक्ष हैं। लेकिन सतीश कुमार शाही का अपना व्यक्तिव है। यही वजह है कि वो सीतामढ़ी से लेकर पटना और देश की राजधानी के राजनीति गलियारों में अपनी धमक रखते हैं।

श्री छोटन शाही के जीत के बाद टिकॉली समेत पूरे सीतामढ़ी में खुशी की लहर है। जीत के बाद उनके चाहने वालों ने उन्हें फुल माला से लाद दिया। श्री शाही ने बताया कि यह जीत सतीश कुमार शाही उर्फ छोटन शाही की नहीं है दरअसल यह जीत गरीब-गुरबा,दबे कुचले,अल्पसंख्यक,अगड़ा-पिछड़ा,नवजवान-बुजुर्ग,और हमारी माताओं व बहनों का है।

ये जीत किसान-मजदूर,खेतिहर की है। आगे उन्होंने कहा कि हम इनलोगों के लिए लड़ते रहेंगे। SPOT TV से बात करते हुए श्री शाही ने कहा कि अब विधानसभा चुनाव की तैयारी है। उन्होंने आगे बताया कि वो रुन्नीसैदपुर से चुनाव लड़ेंगें। आपको बतादें कि सतीश कुमार शाही उर्फ छोटन शाही बिहार प्रदेश एनसीपी के राज्य सचिव भी हैं।