इराक की राजधानी बगदाद में अमेरिकी दूतावास पर रॉकेट से हमला किया गया है, हालांकि किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है, आपको बता दें कि 13 फरवरी को भी उत्तरी इराक के दूरदराज वाले किरकुक प्रांत में स्थित एक अमेरिकी सैन्य अड्डे पर रॉकेट से हमला किया गया था, जिसमें भी किसी के हताहत होने की खबर नहीं थी, किरकुक के बेस पर यह 27 दिसंबर के बाद हुआ पहला हमला था, यहां 27 दिसंबर, 2019 को एक साथ करीब 30 रॉकेट दागे गए थे, जिसमें एक अमेरिकी कॉन्‍ट्रैक्‍टर की जान चली गई थी।

अमेरिका ने इसका आरोप इराकी सशस्‍त्र बल के कट्टरपंथी धड़े कताएब हिजबुल्‍ला पर लगाया था, जिसे ईरान समर्थक माना जाता है, अमेरिका ने इसके लिए ईरान को बड़ा अंजाम भुगतने की चेतावनी दी थी, मालूम हो कि ईरानी कमांडर कासिम सुलेमानी की मौत के बाद ईरान और अमेरिका के बीच संबंध बिगड़ गए हैं, अमेरिका ने कमांडर सुलेमानी को इराक में मार दिया था।