लाॅकडाउन-4 थोड़ा अलग इसलिए है क्योंकि लाॅकडाउन के पहले, दूसरे और तीसरे चरण के मुकाबले चैथे चरण में नयी छूट मिली है। यही वजह है कि जन-जीवन धीरे-धीरे पटरी पर आता नजर आ रहा है हांलाकि संक्रमण का खतरा कम नहीं हुआ है और हर छूट के साथ यह शर्त है कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो और कोरोना संक्रमण से बचने के जो जरूरी सावाधानी है उसे अपनाया जाय। कोरोना संकट की महामारी के बीच पटना के डीएम कुमार रवि ने रेड जोन में भी कई दुकानों को खोलने का बड़ा निर्णय लिया है. पटना जिलाधिकारी की ओर से जिले में दुकानों और प्रतिष्ठानों को छह श्रेणियों में बांटते हुए खोलने के संबंध में नए दिशानिर्देश जारी किये गए हैं. इन सभी 6 श्रेणियों में पटना के रेड जोन इलाके को भी शामिल किया गया है.

प्रतिदिन खुलनेवाले दुकान ध्प्रतिष्ठानों की सूची- किराना दुकान.डेयरी  बूथ,मेडिकल की दुकान,ई-कॉमर्स सेवा,फल सब्जी मंडी,पशु चारा की दुकान,ऑटोमोबाइल वर्कशॉप/ गैरेज एवं सर्विसिंग सेंटर,सभी अस्पताल.. सोमवार ,बुधवार ,शुक्रवार को खुलने वाले दुकानों की सूची- इलेक्ट्रिकल गुड्स, पंखा ,कुलर, एयर कंडीशनर (विक्रय एवं मरम्मत),इलेक्ट्रॉनिक गुड्स -यथा मोबाइल, लैपटॉप ,कंप्यूटर, यूपीएस एवं बैटरी (विक्रय एवं मरम्मत),ऑटोमोबाइल्स, टायर एवं ट्यूब्स,स्नइतपबंदज (मोटर वाहन  स्कूटर मरम्मत सहित),निर्माण सामग्री के भंडारण एवं बिक्री से संबंधित प्रतिष्ठान यथा सीमेंट, स्टील, बालू स्टोन, मिट्टी, सीमेंट ब्लॉक ,ईंट, प्लास्टिक पाइप ,हार्डवेयर ,सैनिटरी फिटिंग, लोहा ,पेंट ,शटरिंग सामग्री.ऑटोमोबाइल स्पेयर पार्ट्स की दुकानें,हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट की दुकान,प्रदूषण जांच केंद्र,निजी कार्यालय ( 33ः कर्मियों की उपस्थिति के साथ),शैक्षणिक संस्थानों के कार्यालय (33ः कर्मियों की उपस्थिति के साथ).मंगलवार, गुरुवार ,शनिवार को खुलने वाले दुकानों प्रतिष्ठानों की सूची -कपड़ा की दुकान (रेडीमेड वस्त्र की दुकान सहित),निजी क्लीनिक,बर्तन की दुकान,जूता चप्पल की दुकान,ड्राई क्लीनर्स की दुकान,स्पोर्ट्स खेलकूद सामग्री की दुकान.फर्नीचर की दुकान,सोना चांदी की दुकान.शॉपिंग कंपलेक्स मार्केट कंपलेक्स में अवस्थित दुकानों प्रतिष्ठानों के लिए मार्केट कंपलेक्स के संचालक सक्षम समिति के द्वारा दुकानों प्रतिष्ठानों को एक एक दुकान छोड़कर इस प्रकार खोला जाएगा कि परिसर में भीड़ की स्थिति उत्पन्न नहीं हो उसके लिए दुकानों को दो रंग से अथवा आड इवेन(सम विषम) के आधार पर चिन्हित कर लिया जाएगा. इस प्रकार आधे दुकानों को सोमवार बुधवार एवं शुक्रवार तथा आधे दुकानों को मंगलवार बृहस्पतिवार एवं शनिवार को खोला जाएगा चाहे दुकानों की प्रकृति जो भी हो.