आमतौर पर ऐसा कम ही होता है कि एक ही पार्टी के दो सांसद आपस में भीड़ जाए और दोनों के बीच आर या पार वाली स्थिति हो जाए. लेकिन संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस को लेकर यह हुआ है. पटना के पाटलिपुत्र से बीजेपी सांसद रामकृपाल यादव और झारखंड के गोड्डा से सांसद निशिकांत दुबे के बीच सीधी भिड़ंत हो गई हैं.

बीते 24 घंटे में एक के बाद एक बयान के बाद दोनों के बीच तलवारें खीच गई है.पूर्व केंद्रीय मंत्री और वर्तमान में पाटलिपुत्र से सांसद रामकृपाल यादव ने निशिकांत दुबे के सवाल पर जवाब देते हुए कहा है कि निशिकांत दुबे जिन बातों को रख रहे हैं वह कुतर्क से अधिक कुछ भी नहीं है.

रामकृपाल यादव ने एक एक कर सभी सवालों के जवाब दिए हैं. रामकृपाल ने साफ़ किया है कि संपूर्ण क्रांति बिहार से दिल्ली जाने वाली दूसरी सबसे महत्वपूर्ण ट्रेन है. जिसे कही शिफ्ट करने पर विचार नहीं हो सकता.

रामकृपाल यादव ने उनसे साफ कहा है कि अगर वह चाहते हैं कि कोई ट्रेन उनके क्षेत्र से भी चले तो वह रेलवे से मांग करे. अगर उनको सांसदों का साथ चाहिए तो बिहार के भी सांसद इसमें सहयोग करेंगे लेकिन कहीं से यह कहना की संपूर्ण क्रांति को उनके क्षेत्र मधुपुर से खोला जाये ये सही नहीं है.