बीजेपी एमएलसी संजय पासवान के बयान से एनडीए में घमासान की स्थिति के बीच अब रामविलास पासवान नीतीश कुमार के साथ खड़े हुए हैं। उन्होंने साफ किया है कि सीएम का चेहरा बार बार नहीं बदला जाता इसलिए नेतृत्व उन्हीं के हाथों में रहेगी और 2020 का बिहार विधानसभा चुनाव भी उन्हीं के नेतृत्व में लड़ा जाएगा। हांलाकि बीजेपी एमएलसी संजय झा पर कुछ बोलने से रामविलास पासवान ने जरूर परहेज किया।

आपको बता दें कि दो दिन पहले बीजेपी एमएलसी संजय पासवान ने यह कहा था कि नीतीश कुमार को बिहार छोड़ देना चाहिए, उन्हें केन्द्र की राजनीति करनी चाहिए। बीजेपी नेता ने कहा था कि नीतीश कुमार लंबे वक्त से बिहार के सीएम हैं अब उन्हें नेतृत्व बीजेपी नेताओं को देना चाहिए क्योंकि उनका नीतीश माॅडल फेल रहा है। इस बयान के बाद एनडीए में गर्माहट लगातार बढ़ रही थी। जेडीयू के नेता हमलावर थे और संजय पासवान के बयान पर तल्ख अंदाज में प्रतिक्रिया दे रहे थे। बवाल बढ़ने पर अब सुशील मोदी और रामकृपाल यादव ने डैमेज कंट्रोल की कोशिश की है।