नई दिल्ली,जी.कृष्णा: 5 एकड़ जमीन मुस्लिम पक्ष को दुसरी जगह पर दी जाएगी।विवादित जमीन हिन्दू पक्ष को सौंपी जाएगी। सुन्नी वक्फ बोर्ड के सारे पक्ष को खारिज कर दिया है। विवादित जमीन पर रामलला मंदिर बनने का रास्ता साफ। अयोध्या विवाद मामले में शनिवार को सुबह 10:30 बजे सुप्रीम कोर्ट फैसला आ गया है।

इस फैसले में सभी जज ने एक इस मसले में पांचो जज एक मत थे। चीफ जस्टिस ने अपना फैसला सुनाते हुए कहा सर्वसम्मति से फैसला लिया गया है। पांच जज की बेंच ने फैसला सुनाया है। फैसला में कहा गया है कि बाबर के समय बनाई गयी थी मस्जिद।मीर बाकि ने बनाई थी मस्जिद। वहीं सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मस्जिद बनाने के लिए दुसरी जगह जमीन दी जाएगी।

इधर बतादें कि अयोध्या मामले के फैसले के मद्देनजर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को सतर्क रहने की हिदायत दी है। अयोध्या में धारा 144 लागू है। साथ ही सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। अयोध्या में अर्धसैनिक बलों के 4000 जवानों को तैनात किया गया है। अधिकारी ने बताया कि राज्यों को सभी संवेदनशील स्थानों पर पर्याप्त सुरक्षाकर्मी तैनात रखने और यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है कि देश में कहीं भी कोई अप्रिय घटना न हो। आज के इस फैसले से वर्षों से चल रहा विवाद खत्म हो गया है।