कोरोना जैसी महामारी ने पूरी दुनिया में कोहराम मचाया है। भारत में स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है हांलाकि दूसरे देशों के मुकाबले हालात यहां काबू में है लेकिन संकट गहरा होता जा रहा है। भारत में कोरोना संक्रमण महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा है। कोरोना संक्रमण की वजह से हीं 86 साल में पहला मौका होगा जब लाल बाग के राजा की स्थापना नहीं होगी। जानकारी के मुताबिक गातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए पंढरपुर की वारी यात्रा की तरह ही गणेशोत्सव भी फीका रहने वाला है।

महामारी के कारण विश्व प्रसिद्ध ‘लालबाग च राजा’ (लालबाग के राजा) गणपति मंडल ने इस बार गणेशोत्सव नहीं मनाने का फैसला किया है। 86 साल के इतिहास में यह पहली बार है जब लालबाग के राजा की स्थापना नहीं होगी। सीएम ठाकरे ने भी इस बार सिर्फ 4 फीट के गणपति स्थापित करने का निर्देश गणेश मंडलों को दिया था। बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 1 लाख 75 हजार के करीब पहुंच गया है। ‘लालबाग च राजा’ गणपति मंडल की ओर से बताया गया कि इसके स्थान पर ब्लड और प्लाज्मा दान शिविर लगाया जाएगा। लालबाग च राजा को सेलेब्रिटी गणपति की संज्ञा भी दी जाती है। हर साल यहां लाखों की संख्या में भक्त और बॉलीवुड सेलेब्रिटीज दर्शन के लिए आते हैं। हर साल अलग-अलग थीम पर बनने वाले गणपति आकर्षण का मुख्य केंद्र होते हैं।