केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने आज कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयानों पर जोरदार पलटवार किया है। एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने लद्दाख को लेकर राहुल गांधी के लगातर हमलों पर जोरदार तरीके से जवाब दिया है। गृहमंत्री ने कहा है कि चर्चा करने के लिए कोई नहीं भागना चाहता और संसद सत्र शुरू होने वाला है उसमें आकर जितनी चर्चा करनी है करें, लेकिन किसी को ऐसा बयान नहीं देना चाहिए, जिससे पाकिस्तान और चीन जैसे मुल्कों को खुशी मिलती हो। इसके साथ ही गृहमंत्री ने राहुल गांधी को 1962 की लड़ाई से लेकर अबतक सुरक्षा से संबंधित हर मुद्दे पर चर्चा करने की चुनौती दे डाली है।

जब गृहमंत्री अमित शाह से राहुल गांधी के ‘सरेंडर मोदी’ वाले ट्वीट पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उनकी सरकार सुरक्षा के मुद्दे पर हर चर्चा के लिए तैयार है। अमित शाह ने कहा, “पार्लियामेंट होनी है…चर्चा करनी है तो आइए करेंगे…..62 से आजतक दो-दो हाथ हो जाए….कोई नहीं डरता चर्चा से। मगर जब देश के जवान संघर्ष कर रहे हैं, सरकार स्टैंड लेकर ठोस कदम उठा रही है उस वक्त पाकिस्तान और चीन को खुशी हो इस प्रकार का बयान किसी को नहीं देना चाहिए।” बता दें कि राहुल गांधी अपने सहयोगी दलों के बड़े नेताओं की सलाह की भी उपेक्षा कर लगातार लद्दाख के मसले पर हमलावर हैं और उसी में एकबार उन्होंने ट्वीट कर पीएम मोदी के लिए लिखा था, ‘सरेंडर मोदी।’