Spot Tv: लखनऊ की चुनावी सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती की दोस्ती पर तंज कसते हुए कहा कि यह फर्जी दोस्ती है चुनाव के बाद खत्म हो जाएगी। लखनऊ सीट बीजेपी के लिए बेहद अहम रही है क्योंकि यहां से भारत के पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत अटल बिहारी वाजपेयी चुनाव जीतते रहे हैं और इस केन्द्रीय गृहमंत्री और बीजेपी के कद्दावर नेता राजनाथ सिंह मैदान में हैं।

राजनाथ सिंह के समर्थन में आयोजित चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पीएम ने माया-अखिलेश की दोस्ती को फर्जी दोस्ती बताया। पीएम मोदी ने मायावती और अखिलेश यादव के बीच हुए गंठबंधन पर निशाना साधा और कहा, एक दोस्‍ती यूपी विधानसभा चुनाव के समय भी हुई थी. चुनाव खत्‍म हुआ, दोस्‍ती भी खत्‍म हो गयी.दोस्‍ती दुश्‍मनी में बदल गयी.पीएम मोदी ने आग कहा, अब एक दोस्‍ती फिर हुई है, लेकिन इसके टूटने की तारीख भी तय है. आपको बताऊं ये फर्जी दोस्ती टूटने की तारीख 23 मई है. सपा-बसपा की महामिलावट की हालत खराब है.