वाराणसी, डॉ आनंद के पांडेय : चेतगंज के सेनपुरा में स्व. प्रमिलादेवी मेमोरियल फाउंडेशन और श्री सार्वजनिक दुर्गोत्सव समिति के संयुक्त तत्वाधान में भारतीय पौराणिक चरित्र व क्रांतिकारीयों से संबंधित भेष-भूषा व उनके संवाद की प्रतियोगिता का आयोजन किया गया| इस कार्यक्रम में राज्य महिला आयोग कि सदस्य श्रीमती मीना चौबे बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुईं।
विजयादशमी के पावन अवसर पर वहां मौजूद लोगों को बधाई देते हुए श्रीमती चौबे ने कहा कि आज के मौजूदा हालत में मां-बाप को अपने बच्चों के किताबी ज्ञान के साथ उन्हें अपनी धर्म, संस्कृति, परम्परा, देवी-देवता और आजादी के रणबांकुरों के कहानियों के संवाद सहित भारत और भारतीयता का भाव भरना ज़रूरी है, उन्होंने कहा कि शिक्षा सिर्फ बाजारीकरण के उद्देश्य से न होकर राष्ट्र-राष्ट्रीयता से ओतप्रोत होनी चाहिए।

वहां मौजूद आधी आबादी से श्रीमती चौबे ने अपील की कि इस पुनीत कार्य को जरूर करें साथ ही अपने बच्चो में संस्कार का भाव भरें। उन्होंने कहा कि पायल सोनी के संयोजन में हुए इस प्रयास से निश्चित तौर पर जन जागरण होगा। इस कार्यक्रम में बड़ी तादाद में स्थानीय मौजूद रहे।