जन अधिकार पार्टी के संरक्षक और पूर्व सांसद पप्पू यादव ने बिहार में तीसरे मोर्चे की कवायद तेज कर दी है। पप्पू यादव लगातार इस कोशिश में लगे हैं कि बिहार में एक तीसरे राजनीतिक विकल्प का निर्माण किया जाए।

ताकि 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में लड़ाई आसान हो। किशनगंज में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि बीजेपी जेडीयू के शह मात की खेल में बिहार के विकास की गति रूक गयी है।

कांग्रेस का वर्तमान नेतृत्व सोनिया गांधी के हाथ में है। पहले भी देश के निमार्ण में उनकी बहुत मजबूत भूमिका रही है।

उनके साथ हमारे जैसी छोटी पार्टियां और सीपीआई जैसे दलों को एक होकर बिहार बचाने के लिए आगे बढ़ना चाहिए। बहुत जल्द बिहार में एक तीसरी राजनीतिक ताकत विकल्प बनकर उभरेगी।

मांझी, कन्हैया और ऐसे सभी लोग अगर बिहार को नेतृत्व देते हैं तो हम साथ देने को तैयार हैं। अगर कांग्रेस नेतृत्व करे तो कांग्रेस के साथ मिलकर बिहार में नये विकल्प को तलाशेंगे ताकि तीसरी ताकत एक मजबूत नेतृत्व का हिस्सा बने।