विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के आंकड़ों के विश्लेषण के मुताबिक भारत में पिछले सात दिनों में, चार से 10 अगस्त तक, प्रतिदिन कोविड-19 के अमेरिका और ब्राजील से अधिक मामले सामने आये। आंकड़ों के मुताबिक कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में अमेरिका और ब्राजील के बाद भारत तीसरा सर्वाधिक प्रभावित देश है। भारत में ‘‘चार से 10 अगस्त के बीच’’ विश्व के 23 प्रतिशत से अधिक मामले सामने आये, जबकि कोविड-19 से विश्व की 15 प्रतिशत से अधिक मौतें देश (भारत) में दर्ज की गई।

भारत में (चार अगस्त से) 10 अगस्त तक एक सप्ताह की अवधि में कोविड-19 के (कुल) 4,11,379 मामले सामने आये, जबकि इस दौरान महामारी से 6,251 लोगों की मौत हुई। वहीं, अमेरिका में इसी अवधि के दौरान संक्रमण के 3,69,575 मामले सामने आये और 7,232 लोगों की मौतें हुई। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस संक्रमण और इस महामारी से होने वाली मौतों के मामलों में अमेरिका प्रथम स्थान पर है। इस अवधि में ब्राजील में संक्रमण के 3,04,535 मामले सामने आये, जबकि 7,232 लोगों की कोविड-19 से मौत हो गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मंगलवार सुबह आठ बजे के आंकड़ों के मुताबिक लगातार चार दिन 60,000 से अधिक नये मामले सामने आने के बाद मंगलवार को यह संख्या कुछ कम रही, लेकिन फिर भी इसके 52,000 से अधिक रहने के साथ भारत में कोविड-19 के कुल मामले बढ़ कर 22.68 लाख हो गये हैं। भारत में कोविड-19 के मामलों के एक लाख के आंकड़े तक पहुंचने में 110 दिनों का समय लगा और इसके बाद 59 दिनों में यह 10 लाख के आंकड़े को पार गया तथा सिर्फ 24 दिनों में 22 लाख से अधिक हो गया।