नई दिल्ली,श्वेता: अभी तक दुनिया भर में Novel Corona virus से 14 लोगों की मौत की खबरें हैं। Novel Corona virus से मरने वालों में एक व्यक्ति चीन का भी शामिल है। चीन के वुआन प्रांत में 5 जनवरी को नोवेल कोरोना वायरस से एक व्यक्ति की मृत्यु हुई है। इस वायरस के तेजी से फैलने के कारण भारत सरकार ने दिल्ली, मुंबई व कोलकाता हवाईअड्डों पर चीन से आने वाले अंतर्राष्ट्रीय पर्यटकों की एहतियातन थर्मल स्कैनर के जरिए जांच करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही चीन जाने वाले और वहां से आने वाले यात्रियों के लिए परामर्श जारी किया गया है।


What is Novel Coronavirus
डब्ल्यूएचओ के मुताबिक कोरोना वायरस सी-फूड से जुड़ा है। कोरोना वायरस विषाणुओं के परिवार का है और इससे लोग बीमार पड़ रहे हैं। यह वायरस ऊंट, बिल्ली तथा चमगादड़ सहित कई पशुओं में भी प्रवेश कर रहा है. दुर्लभ स्थिति में पशु मनुष्यों को भी संक्रमित कर सकते हैं। इस वायरस का मानव से मानव संक्रमण वैश्विक स्तर पर कम है।


Novel Coronavirus Symptoms
कोरोना वायरस के मरीजों में आमतौर पर जुखाम, खांसी, गले में दर्द, सांस लेने में दिक्कत, बुखार जैसे शुरुआती लक्षण देखे जाते हैं। इसके बाद ये लक्षण निमोनिया और किडनी को नुकसान पहुंचाते हैं।


कोरोना वायरस से बचाव
ये वायरस जहां फैल रहा है सबसे पहले वहां जाने से बचें। अगर आप ऐसी जगह के आप-पास हैं तो इस वायरस से बचने के लिए नीचे दिए तरीकों को अपना सकते हैं…
a.अपने हाथों को अच्छी तरह साबुन से धोएं। अगर साबुन ना हो तो सैनिटाइज़र का इस्तेमाल करें।
b. अपनी नाक और मुंह को कवर करके रखें।
c. बीमार लोगों से थोड़ी दूरी बनाएं. उनके बर्तन का इस्तेमाल ना करें और उन्हें छुए नहीं। इससे मरीज और आप दोनों ही सुरक्षित रहेंगे।
d. घर को साफ रखें और बाहर से आने वाली चीज़ों को भी साफ करके ही घर में लाएं।
e. नॉन वेज खासकर सी-फूड खाने से बचें, क्योंकि कोरोना वायरल सी-फूड से ही फैला है।

Coronavirus Treatment
अभी तक कोरोना वायरस से निजात पाने के लिए कोई वैक्सीन नहीं बनी है। इस वायरस के इलाज के लिए वैक्सीन बनाने का काम वैज्ञानिक कर रहे हैं।