महाराष्ट्र में महा विकास अघाड़ी की सरकार सत्ता में आने के बाद सरकार के साथ काफी कुछ बदल गया है। प्रदेश में एनसीपी, शिवसेना और कांग्रेस की सरकार आने के बाद प्रदेश के सरकारी विज्ञापनों में बदलाव देखने को मिला है। यहां सरकारी विज्ञापन में से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर गायब हो गई है। गुरुवार को प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष प्रसाद लाल ने आरोप लगाया कि सरकारी विज्ञापन से पीएम की तस्वीर को हटा दिया गया है, साथ ही मांग की है कि कम से कम सामान्य शिष्टाचार का तो पालन किया ही जाए।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और शरद पवार को एक पत्र लिखा गया है जिसमे आरोप लगाया गया है कि सुप्रीम कोर्ट के दिशानिर्देश का उल्लंघन किया जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट का निर्देश है कि सरकारी विज्ञापन में पीएम की तस्वीर होनी चाहिए। इस पत्र में मांग की गई है कि भविष्य में विज्ञापन के प्रकाशन में इस बात का ध्यान रखा जाए और पीएम मोदी की तस्वीर को लगाया जाए। पत्र में कहा गया है कि नई सरकार आने के बाद से सरकारी विज्ञापनों में पीएम मोदी की तस्वीर को नहीं छापा जा रहा है।