रांची : सुनिल कुमार सिंह

रांची में लव जेहाद का एक मामला सामने आया है. इस मामले में पहले एक युवक ने पलामू की युवती को  अपना गलत नाम बता कर उससे मंदिर में शादी की. फिर धर्म परिवर्तन कर उससे निकाह किया. अंत में युवक ने तीन बार तलाक-तलाक बोल कर युवती को छोड़ दिया और बच्चों को साथ लेकर दूसरी महिला के साथ चला गया. मामले की जानकारी पुलिस अधिकारियों को तब मिली, जब शनिवार को महिला कोतवाली थाना पहुंची और इस बात की जानकारी कोतवाली थाना प्रभारी श्यामानंद मंडल को दी. कोतवाली थाना प्रभारी ने पीड़ित महिला को महिला थाना भेज दिया. महिला ने मामले की लिखित शिकायत महिला थाने में की है.

फोन के जरिये बढ़ी थी दोनों की नजदीकियां

पीड़ित महिला ने बताया कि वह मूल रूप से पांकी की रहनेवाली है. उसे वर्ष 2011 में पलामू निवासी आरिफ हुसैन उर्फ छोटू ने एक दिन फोन किया. फोन पर बात करने के दौरान दोनों के बीच दोस्ती बढ़ गयी. बाद में दोनों एक-दूसरे से प्यार करने लगे. तब युवक ने अपना नाम युवती को छोटू सिंह बताया था. इसके बाद एक दिन युवक उसे घुमाने ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया. इस घटना से पहले युवती के पिता का देहांत हो चुका था. इसलिए लोक-लज्जा के कारण उसने किसी को घटना की जानकारी नहीं दी. जब युवती ने छोटू सिंह पर शादी के लिए दबाव डाला, तब उसने युवती से कमड़े के शिव मंदिर में शादी कर ली और युवती के साथ रांची में रहने लगा. विवाह के बाद युवती को पता चला कि छोटू पहले से शादी-शुदा है. उसकी पत्नी अपने मायके में दो बच्चों के साथ रहती है. युवती को यह भी पता चला कि छोटू सिंह का असली नाम आरिफ हुसैन है़ जब युवती ने इस मामले में छोटू से पूछताछ की, तब वह उसके साथ मारपीट करने लगा. फिर युवती का धर्म परिवर्तन करा कर उसके साथ दोबारा निकाह किया.

प्रतिबंधित मांस खिलाया, मारपीट की

पीड़ित महिला के अनुसार आरिफ से उसके तीन बच्चे हैं. एक दिन आरिफ ने सभी को एक पार्टी में ले जाकर प्रतिबंधित मांस खिलवाया और विरोध करने पर मारपीट की. इसके बाद तीन बार तलाक-तलाक बोल कर छोड़ दिया. छह महीने पूर्व महिला को इस बात की जानकारी मिली कि उसके पति का संबंध रातू निवासी एक और महिला के साथ है. जिससे आरिफ ने निकाह कर लिया है. महिला के अनुसार कुछ दिन पूर्व उसने अपने पति को दूसरी महिला के साथ अलबर्ट एक्का चौक के पास देखा था. तब उसने अपने पति के साथ झगड़ा भी किया था. इसके बाद कोतवाली पुलिस उसे थाने ले गयी थी. लेकिन तब उसने घटना की पूरी जानकारी पुलिस को नहीं दी थी. महिला थानेदार दीपिका प्रसाद ने बताया बताया कि मामले की शिकायत मिली है. मामले में केस दर्ज कर कार्रवाई की जायेगी.