नियोजित शिक्षकों की हड़ताल टालने के लिए सरकार हर दांव पेंच अपना रही है। एक तरफ उनके खिलाफ कार्रवाई करने की बात हो रही है तो दूसरी तरफ उनसे नरमी से अपील भी की जा रही है। बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णनंद वर्मा ने नियोजित शिक्षकों से हड़ताल वापस लेने की अपील की है। जानकारी के मुताबिक बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णंदन प्रसाद वर्मा ने आंदोलन करने वाले नियोजित शिक्षकों से कहा है की 15 लाख बच्चों के बेहतर भविष्य के मद्देनजर आंदोलन वापस लेने की अपील किया है। उन्होंने कहा है कि सभी शिक्षकगण बच्चों की भविष्य के प्रति संवेदनशील होकर मैट्रिक की परीक्षा एवं मूल्यांकन के महत्व को समझेंगे और इसमें अपना विरोध की बजाय पूर्ण सहयोग प्रदान करेंगे.

शिक्षा मंत्री ने पत्र के माध्यम से कहा है कि कुछ शिक्षक संगठन मैट्रिक परीक्षा के समय एवं इंटर के मूल्यांकन के हड़ताल करने वाले हैं अपनी मांग मनवाने के लिए मैट्रिक परीक्षा इंटर के मूल्य में बाधा पहुंचाना चाहते हैं .बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने की इजाजत किसी को नहीं दी जा सकती ।आप सभी शिक्षक बच्चों के भविष्य को ध्यान में रखकर परीक्षा के आयोजन में विरोध की बजाए सहयोग प्रदान करें।