नई दिल्ली ,राजेश कुमार,जी.कृष्ण: Coronavirus संक्रमण को रोकने के लिए लागू लॉकडाउन को आगे बढ़ाया जाए या नहीं? इस पर केन्द्र की मोदी सरकार मंथन कर रही है। शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के बैठक में यह मुद्दा सबसे ऊपर था। आपका बता दें कि 31 मई को लॉकडाउन का चौथा चरण खत्म हो रहा है। गृहमंत्री अमित शाह ने शुक्रवार सुबह राज्यों के मुख्य मंत्रियों के साथ बातचीत की थी। श्री शाह ने तमाम फीडबैक प्रधानमंत्री से साझा किया और फिर आगे की रणनीति पर बात की। कई राज्योंब ने लॉकडाउन जारी रखने को कहा है मगर वह आहिस्ता-आहिस्ता हालात को भी सामान्यी करना चाहते हैं। आज की बैठक में 31 मई के बाद की योजना का खाका खिंचा जा चुका है।


लॉकडाउन और छूट!
खबर है कि अगर लॉकडाउन आगे बढ़ाने का फैसला हुआ तो बहुत जनता को बहुत हद तक छूट मिल सकती है। सरकार का फोकस उन शहरों पर है जहां कोरोना के मामले बहुत ज्याकदा हैं। इनमें दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, पुणे, ठाणे, इंदौर, चेन्नै, अहमदाबाद, जयपुर, सूरत और कोलकाता शामिल हैं। आपको बता दें कि स्कूबल-कॉलेज फिलहाल बंद रहने के ही आसार हैं। इंटरनैशनल फ्लाइट्स पर पाबंदी जारी रहने की संभावना है ।वहीं खबर है कि दो सप्ताह के लिए लॉकडाउन बढ़ाया जा सकता है। लेकिन रियायत भी मिलना तय है। इस बार केन्द्र राज्य सरकारों पर बहुत सारे फैसले लेने का भी अधिकार देगी।