अंतरिक्ष में पहली बार 12 मिनट तक चहलकदमी कर इतिहास रचने वाले कॉस्मोनॉट अलेक्सी लियोनोव का मॉस्को में शुक्रवार को निधन हो गया। वे 85 वर्ष के थे। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, रूस की अंतरिक्ष एजेंसी रोस्कोमॉस ने अपनी वेबसाइट पर इस संबंध में जानकारी दी है। द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक लियोनोव के निधन एक अहम घटना है। इसका अंदाज इस बात से लगाया जा सकता है कि यह खबर मिलते ही नासा ने अपना लाइव प्रसारण को बीच में ही रोक दिया और लियोनोव के निधन की खबर प्रसारित की।

रूसी अंतरिक्ष एजेंसी रोस्कोमोस ने कहा कि उसे अंतरिक्ष यात्री नंबर 11 के निधन की घोषणा करते हुए दुख हो रहा है जिन्हें दो बार देश के शीर्ष सम्मान श्हीरो ऑफ सोवियत यूनियनश् से सम्मानित किया गया। लियोनोव, यूरी गगारिन के घनिष्ठ मित्र थे जो 1961 में बाहरी अंतरिक्ष में कदम रखने वाले पहले मानव थे। चार साल बाद जब लियोनोव वोस्कोड 2 मिशन के दौरान अंतरिक्षयान से बाहर निकले और उन्होंने 12 मिनट नौ सेंकेंड तक अंतरिक्ष में चहलकदमी की तब उन्होंने एक इतिहास रचा था।