शराबबंदी को लेकर आरजेडी विधायक भाई विरेन्द्र ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि अगर बिहार में महागठबंधन की सरकार बनती है तो शराबबंदी पर जनमत संग्रह कराया जाएगा। शराबबंदी को लेकर आरजेडी पहले भी हमलावर रही है आज भी आरजेडी विधायक ने शराबबंदी को लेकर सीएम नीतीश पर निशाना साधा है। उन्होंने ये भी आरोप लगाया कि अवैध रूप से शराब की बिक्री हो रही है जिसकी वजह से राजस्व का नुकसान हो रहा है. हालांकि जेडीयू ने आरजेडी की बातों को सपना करार देते हुए तंज कसा है.

भाई विरेंद्र ने कहा कि बिहार में शराबबंदी तो है नहीं, लेकिन बिहार सरकार की ओर से राजस्व की हानि के लिए सारा काम किया गया है. सबसे खास ये कि ये पैसा सरकार से जुड़े रसूखदार अधिकारियों और नेताओं के खाते में जा रहा है. जब ये लागू हो रहा था तो हम भी उनके साथ थे, लेकिन हम ढकोसले के साथ नहीं हैं. इसलिए जब हमारी सरकार आएगी तो जनमत संग्रह करवाएगी और जो भी राय बनेगी उसके अनुसार फैसला लिया जाएगा.