बिहार के राज्यपाल सत्यपाल मलिक शुक्रवार को विक्रमशिला पहुंचे और ऐतिहासिक स्थलों को देखकर गदगद हो गये। उन्होंने मुख्य स्तूप कांपलेक्स, मनौती स्तूप, वातानुकूलित पुस्तकालय, तिब्बती मंदिर, अंतीचक गांव के पास छोटी पहाड़ी सहित अन्य ऐतिहासिक महत्व की चीजों को देखा। संग्रहालय में चलंत अवशेष को देख वे खुश हुए और कहा कि ऐसी दुर्लभ चीजें बहुत कम देखने को मिलती हैं। संग्रहालय प्रभारी अनुराग कुमार ने जब बताया कि विक्रमशिला का उदगम स्थल बटेशवर है, इसके बाद आसपास फैला तो राज्यपाल की यहां के बारे में जानने की और उत्सुकता बढ़ती गई।

इससे पहले राज्यपाल सत्यपाल मलिक कहलगांव एनटीपीसी के मानसरोवर गेस्ट हाउस हेलिकॉप्टर से पहुंचे थे। वहां से ऐतिहासिक स्थल विक्रमशिला गये। फिर पटना के लिए रवाना हो गए। उनके आगमन को ले सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किये गये थे और तमाम वरीय अधिकारी मौजूद थे।