चैतरफा मुश्किलों से घिरे अनंत सिंह पर एक और गंभीर आरोप लगा है। इस बार बिहार के एक पूर्व आईपीएस अधिकारी ने उन पर आरोप लगाया है कि अनंत सिंह सुपारी देकर उनकी हत्या करवा सकते हैं।

पूर्व आईपीएस अमिताभ दास ने बकायदा डीजीपी को पत्र लिखकर अपनी सुरक्षा की गुहार लगायी है। जानकारी के मुताबिक अमिताभ दास ने पुलिस मुख्यालय से तत्काल दो गोरखा जवानों की मांग की है।

अमिताभ दास ने हीं मार्च 2009 में बाहुबली विधायक अनंत सिंह के लदमा स्थित घर में एके-47 रहने की गोपनीय रिपोर्ट तत्कालीन बिहार निर्वाचन पदाधिकारी सुधीर कुमार राकेश को दी थी।

वर्ष 2009 के पांच मार्च को तत्कालीन जमुई स्थित बीएमपी 11 के कमांडेंट व आईपीएस अधिकारी अमिताभ कुमार दास ने चुनाव आयोग को एक पत्र लिखा था।

इसमें पूर्व आईपीएस अधिकारी ने लिखा था कि उन्हें सूचना मिली है कि अनंत सिंह के पास एके 56, मशीन गन और एके 47 जैसे अत्याधुनिक हथियार उपलब्ध हैं। इस चिट्ठी को आईपीएस अधिकारी ने चुनाव आयोग को दिया था।