हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (से०) के राष्ट्रीय अध्यक्ष बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने कहा बरसों पुराना मंदिर निर्माण का मामला लंबित था, उसका आज माननीय उच्चतम न्यायालय के द्वारा फैसला देकर समाप्त कर दिया गय। माननीय उच्चतम न्यायालय के फैसला का हम स्वागत करते हैं।मांझी ने कहा कि अपनी ओर से एवं हम पार्टी की ओर से अपील करते हैं कि इस फैसला को जीत और हार के रूप में नहीं लेना चाहिए । सदियों से मंदिर निर्माण की समस्या को लेकर देश में व्याप्त तनाव का खात्मा होना चाहिए।

इसी में देश, धर्म एवं समाज सबों को फायदा होगा।मांझी ने कहा कि माननीय उच्चतम न्यायालय में हर पहलू का सूक्ष्म सिंहालोकन किया है । इससे अच्छा कोई फैसला नहीं हो सकता । इसलिए हम माननीय उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश सहित फैसला से संबंधित न्यायाधीशों के प्रति आभार व्यक्त करते हैं । आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि सामाजिक सौहार्द एवं देश में शांति के वातावरण के लिए सबों को यह फैसला मान्य होना चाहिए ।