मुजफ्फरपुर: अंतिम सोमवारी और बकरीद दोनों एक दिन होने की वजह से छाता बाजार के मुस्लिम समुदाय ने कुर्बानी नहीं देने का लिया निर्णय।मुज़फ्फफरपुर में गंगा यमुना की तहजीब देखने को मिल रही है, जहाँ पर बाबा गरीबनाथ का मंदिर और बाबा गरीब नवाज का मस्जिद है।

सावन की अंतिम सोमवारी और बकरीद की कुर्बानी दोनों एक दिन होने की वजह से यहां रहने वाले मुस्लिम समुदाय के लोग इस दिन कुर्बानी नही करेंगे, बल्कि मंगलवार को करेंगे। और इसका ऐलान मस्जिद में नमाज़ अदा करने के बाद किया गया ।

इस मस्जिद के इमाम ने यह घोषणा की। इस घोषणा से दोनों धर्मो के लोगो ने आपसी सदभाव की मिसाल पेश की जिससे पूरे देश के लोगो को सबक लेना चाहिये, जो लोग समाज मे नफरत का जहर घोलने की कोशिश करते है ।