नई दिल्ली। देश के वरिष्ठ आध्यात्मिक एवं सामाजिक लोकसेवी श्री राम महेश मिश्र को एकल योग आरोग्य योजना की एक्ज़ीक्यूटिव कमेटी का ‘राष्ट्रीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष’ नामित किया गया है। इस आशय की जानकारी आज यहाँ एकल योग आरोग्य योजना के राष्ट्रीय अध्यक्ष संस्कारी योगगुरु डॉक्टर राम अवतार एवं राष्ट्रीय सचिव श्री जय प्रकाश शर्मा ने मीडियाजन को दी। ज्ञातव्य है कि श्री मिश्र भारत भाग्योदय एवं वैश्विक अभ्युदय के उच्च लक्ष्य को समर्पित ‘भाग्योदय फ़ाउंडेशन’ के अध्यक्ष व संस्थापक हैं।

दिल्ली राज्य सरकार के शिक्षा विभाग में वरिष्ठ परियोजना अधिकारी (योग) रहे जाने-माने समाजसेवी डॉ. राम अवतार ने श्री राम महेश मिश्र को उनका नियुक्ति-पत्र सौंपने के बाद बताया कि आध्यात्मिक एवं सामाजिक सेवा क्षेत्र के अलावा योग विस्तार व संस्कार संवर्धन के क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर पर अपनी सराहनीय सेवाएँ प्रदान करने वाले प्रख्यात समाजसेवी श्री राम महेश मिश्र का नामांकन स्वास्थ्य रक्षा क्षेत्र में सेवारत विहिप की आनुषंगिक शाखा योग आरोग्य ऑफ़ इण्डिया के विद्वान व्यवस्थापक मण्डल द्वारा सर्वसम्मति से किया गया है।

उन्होंने बताया कि महान तपस्वी युगऋषि पं.श्रीराम शर्मा आचार्य के वरद शिष्य श्री मिश्र ने गायत्री परिवार लखनऊ एवं देव संस्कृति विश्वविद्यालय, शांतिकुंज हरिद्वार के अलावा परमार्थ निकेतन ऋषिकेश एवं विश्व जागृति मिशन नयी दिल्ली में सक्रिय सराहनीय सेवाएँ दीं। डॉ.राम अवतार ने बताया कि अपने 1,02,000 एकल विद्यालयों के माध्यम से भारत के लगभग तीन लाख गाँवों तक शिक्षा एवं साक्षरता का आलोक बिखेर चुके शिक्षा अभियान के साथ योग आरोग्य योजना का यह देशव्यापी कार्यक्रम संचालित किया जाएगा।

डॉक्टर राम अवतार ने बताया कि एकल योग आरोग्य योजना का लक्ष्य केवल स्कूली विद्यार्थी ही नहीं होंगे वरन हमारा लक्ष्य वरिष्ठ नागरिक एवं महिलाओं सहित समाज के विभिन्न वर्गों को भी सुस्वास्थ्य प्रदान करना होगा। योजना के अन्तर्गत इंजीनियरिंग, मेडिकल, मैनेजमेंट आदि संस्थानों के छात्र-छात्राओं तक भी योग विज्ञान का प्रकाश पहुँचाया जाएगा। उन्होंने प्रधानमन्त्री श्री नरेन्द्र मोदी की योग को विज्ञान के रूप में प्रतिष्ठित किए जाने की मंशा की भी चर्चा की और कहा कि हमारी योगनिष्ठ युवा पीढ़ी राष्ट्र का रचनात्मक नवनिर्माण करने में सफल होगी। उन्होंने आशा व्यक्त की कि राष्ट्रनिष्ठ एवं संस्कृतिनिष्ठ अनुभवी व्यक्तियों की टीम विकसित होने पर प्रस्तुत आरोग्य योजना अपने लक्ष्य को अवश्य पूर्ण कर सकेगी।

इस अवसर पर नवनियुक्त राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री राम महेश मिश्र ने कहा कि एक सुस्वस्थ व समुन्नत राष्ट्र के निर्माण के लिए देशवासियों को जहाँ एक ओर प्रकृति से जोड़ने का अभियान चलाना होगा, वहीं सबको योगयुक्त जीवन शैली सिखानी होगी। उन्होंने गाँव-गाँव, वार्ड-वार्ड में स्वरोज़गारी युवा वैद्य तैयार करके प्राच्य चिकित्सा आयुर्वेद को हरघर व हरजन तक पहुँचाने को कहा। उन्होंने विहिप परिवार के मार्गदर्शन में संचालित आरोग्य फ़ाउंडेशन ऑफ़ इण्डिया के प्रयासों को सराहा और नवगठित संस्था एकल योग आरोग्य योजना के उज्ज्वल भविष्य की कामना की। श्री मिश्र ने देश के जन-जन तक विभिन्न भाषाओं में सरल और सस्ता योग व स्वास्थ्य साहित्य पहुँचाने का सुझाव भी एकल योजना को दिया।