कोरोना महामारी के कारण पूरे देश में लॉकडाउन लागू है। ऐसे में उद्योग-धंधे बंद हैं। राज्‍यों की सरकारों की आय पर भी इसका बुरा प्रभाव पड़ा है। इस बीच दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार कोरोना संकट से निकलने के लिए केंद्र सरकार से पांच हजार करोड़ रुपये की सहायता मांगी है।

सिसोदिया ने कहा है कि दिल्‍ली सरकार के पास उसके कर्मचारियों को सैलरी देने के पैसे नहीं है। उन्‍होंने बताया कि दिल्ली सरकार को अपने कर्मचारियों के वेतन और अन्य आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए हर महीने 3,500 करोड़ रुपये की जरूरत होती है।