राजस्थान के जयपुर में एक वकील ने बाबा रामदेव, आचार्य बालकृष्ण और अन्य के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। जिसके बाद कोरोनिल को लेकर बाबा रामदेव के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। इस बात की जानकारी जयपुर के एसीपी अशोक गुप्ता ने दी है। एसीपी ने कहा कि हमें बिना किसी परीक्षण के कथित तौर पर कोरोना वायरस की दवा विकसित करने के दावे के लिए बाबा रामदेव के खिलाफ कई शिकायतें मिली थीं।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि इससे पहले 26 जून को राजस्थान के स्वास्थ्य विभाग ने पतंजलि की दवा कोरोनिल को लेकर जयपुर के एनआईएमएस अस्पताल को एक नोटिस भेजा था। अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया था कि इस नोटिस में अस्पताल प्रशासन से कोरोना वायरस मरीजों पर पतंजलि की दवा का ट्रायल करने का स्पष्टीकरण मांगा गया है।

जयपुर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. नरोत्तम शर्मा ने कहा था कि हमने अस्पताल को बुधवार को नोटिस जारी किया था। जिसमें 3 दिन के अंदर स्पष्टीकरण देने के लिये कहा था। अस्पताल प्रशासन ने न तो सरकार को इस कथित ट्रायल की जानकारी दी और न ही अनुमति मांगी थी।