पटना:- भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अरविन्द कुमार सिंह ने कहा है कि एयर कंडीशन कल्चर के बिहार का विपक्ष अपने सुविधा के अनुसार आंदोलन का भी रूपरेखा गढ़ लेता हैं।नेता प्रतिपक्ष श्री तेजस्वी यादव और रालोसपा सुप्रीमो श्री उपेंद्र कुशवाहा जी का सवा घंटे का सांकेतिक अनशन दो घंटे का एयर कंडीशन हॉल में धरना, कुछ दिनों के बाद ये लोग एयर कंडीशन हॉल में खड़ा होकर के माथे पर लालटेन रखकर के सांकेतिक पांच मिनट का आत्मदाह करेंगे।राजद और रालोसपा का पीछ – लगु पार्टी बिहार कांग्रेश के अध्यक्ष श्री मदन मोहन झा अब उसी राह पर धरना देने जा रहे हैं, यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है।

वैसे बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष श्री मदन मोहन झा जी को सबसे पहले महाराष्ट्र सरकार और राजस्थान की सरकार के खिलाफ आंदोलन करना चाहिए जो बिहारी मजदूरों और छात्रों को भोजन आवास चिकित्सा न देकर करके, उन्हें कोरोना वैश्विक महामारी में सड़कों पर लाकर खड़ा कर दिया, जरूरत जब तक रहा तब तक उनका अपने यहां फैक्ट्रियों में काम करा कर उपयोग करते रहे। राजद और रालोसपा नाखून कटा कर शहीद होने का दंभ भरने वाली पार्टियां है, उन्हें यह सब दिखाई नहीं पड़ेगा। नेता प्रतिपक्ष एयर कंडीशन में बैठ कर के जनता की गाढ़ी कमाई से मलाई खाने वाले नेता हैं।विधानसभा का चुनाव को देखते हुए कांग्रेस पार्टी को भी एयर कंडीशन कल्चर का धरना पर बैठना अब और जरूरी हो गया है, नहीं तो सीट शेयरिंग में हिस्सा कम पड़ेगा, इसी को देखते हुए सारे विपक्ष पारा-पारी आंदोलन में लगे हैं, कि सब का दावा गठबंधन में विधानसभा सीटों पर मजबूत रहे। ये लोगों को किसी मजदूर से या किसी गरीब से कुछ लेना-देना नहीं है।ये घोटालों का सरदार है, इनको अपना उल्लू समय पर सीधा करने आता है।